जिलाधिकारी ने किेया सरकारी सस्ते गल्ले की दुकानों का औचक निरीक्षण

dm-02

मेरठ : जनपद में राशन की कालाबाजारी रोकने तथा गरीब जरुरतमंद पात्र परिवारों को सरकार द्वारा प्रदत्त आवश्यक खाद्यान्न आसानी से सभी सरकारी सस्ते गल्ला विक्रेताओं से समय से प्राप्त हो इसकी वास्तविक स्थिति का आंकलन करने हेतु आज जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने प्रातः 10-30 बजे बेगम बाग, पुराना गंगानगर साकेत स्थित सरकारी सस्ते गल्ले की दुकानों का औचक निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने निरीक्षण के दौरान आपूर्ति विभाग के अधिकारियों को सख्त हिदायत दी कि वह जनपद में भ्रमणशील रहे और गरीबों को मिलने वाले राशन का समय पर व तथा निर्धारित मात्रा में वितरण करायें। उन्होंने अधिकारियों से स्पष्ट शब्दों में कहा कि गरीबों को मिलने वाले राशन की कालाबाजारी करने वाले राशन डीलरों व राशन माफियाओं को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा बल्कि उनके विरुद्ध कडी कार्यवाही अमल में लाकर सीधा जेल भेजा जाएगा ।

जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने आज राशन दुकानों पर खाद्यान्न वितरण का जायजा लने हेतु बेगम बाग स्थित विक्रेता सुरेश चन्द्र विश्नोई की दुकान पर पहुॅच कर पीवी मशीन द्वारा किया जा रहा राशन वितरण की प्रक्रिया को परखा। उन्होंने मौके पर उपस्थित लाभार्थियों से मशीन पर अगूंठा लगाकर राशन वितरण की स्थिति को जाना तथा लाभार्थियों से विक्रेता द्वारा प्रत्येक माह राशन वितरण उसकी मात्रा व कीमत की भी जानकारी ली । इसके बाद जिलाधिकारी ने पुराना गंगानगर साकेत स्थित बालमुक्त गुप्ता विक्रेता की दुकान पर उपस्थित लाभार्थियों से रुबरु होकर प्रति कार्ड व यूनिट के अनुसार प्रति माह राशन की मात्रा व उसकी कीमत के विषय में विस्तृत जानकारी ली, जिस पर लाभार्थियों द्वारा समय से खाद्यान्न वितरण उचित मूल्य पर वितरण करने की बात कही। उन्होंने मौके पर लाभार्थियों को मशीन द्वारा किये जा रहे राशन वितरण की प्रक्रिया जाना।

जिलाधिकारी ने सभी राशन विक्रेताओं एवं आपूर्ति अधिकारियों से कहा है कि वे राशन की दुकानों को समय से खुलवायें तथा लाभार्थियों को खाद्यान्न वितरण में किसी प्रकार की समस्या न होने दें। उन्होंने राशन डीलरों से कहा कि सरकार द्वारा उनको गरीबों व जरुरतमंद व्यक्तियों को खाद्यान्न वितरित कराने अहम जिम्मेदारी है इसलिए वह राशन का शतप्रतिशत मानक के अनुरुप गुणवत्ता के साथ पारदर्शिता पूर्ण वितरण करायें। उन्होंने जिला पूर्ति अधिकारी को निर्देशित किया कि राशन की दुकानों पर समय से खाद्यान्न पहुॅचें तथा सही मात्रा व कीमत पर उसका वितरण हो इसकी वे स्वंय भी माॅनीटरिंग करें । यदि कोई गरीबों को मिलने वाले राशन की कालाबाजारी में संलिप्त मिले तो उसके विरुद्व कडी कार्यवाही प्रस्तावित करें ।

इस अवसर पर जिला आपूर्ति अधिकारी विकास गौतम ने बताया कि राशन विक्रताओं की दुकानों पर प्रति यूनित 3 कि0ग्राम गैहॅू, 2 कि0ग्राम चावल तथा प्रति कार्ड 2 लीटर मिट्टी का तेल लाभार्थियों को प्रति माह वितरित किया जा रहा है ।

49 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *