पुलिस अभिरक्षा में कुख्यात सुमित जाट ने किया गवाह पर हमले का प्रयास

Attempt-to-attack-witnesses

मेरठ : सरूरपुर में युवक की हत्या में गवाह मां को गोली मरवाने के बाद कुख्यात सुमित जाट ने मंगलवार को कचहरी में गवाही देने आए उसके छोटे पुत्र पर हमले का प्रयास किया। हालांकि इस दौरान मौजूद पुलिसकर्मियों ने सुमित को काबू में करते हुए गवाह को बचा लिया। घटना के बाद गवाह में दहशत बनी हुई है।
बताते चलें कि रजापुर में 13 जुलाई 2016 को चेतन उर्फ भूरा की हत्या कर दी गई थी। इस मामले में पचास हजारी रहे सुमित जाट सहित कई के खिलाफ मुदकमा दर्ज हुआ था। चेतन की मां सावित्री और भाई मितन हत्या के गवाह थे। गवाही के लिए 6 फरवरी की तारीख लगी थी। लेकिन इससे पहले ही जमानत पर बाहर आए आरोपियों ने तीन दिन पूर्व सावित्री को गोली मार दी। हमले में घायल सावित्री की हालत गंभीर बनी है। उधर, मितन को सुरक्षा दिए जाने के बावजूद देर रात उसके घर पर हमले का प्रयास किया गया था। आज मीतन की कोर्ट मंे गवाही थी। दोपहर को मीतन कचहरी आया था। इसी बीच पुलिस अभिरक्षा में तारीख पर लाए गए कुख्यात सुमित जाट ने कचहरी परिसर में मितन पर झपटते हुए हमला बोल दिया। यह नजारा देख पुलिसकर्मियों में हड़कंप मच गया। पुलिस ने आनन-फानन में सुमित को घसीटते हुए मितन से अलग किया। हालांकि सुमित ने भरी कचहरी में पुलिसकर्मियों के सामने ही चीख-चीख कर मितन को हत्या की धमकी दी। घटना के बाद गवाही देने आया मितन बुरी तरह से घबरा गया। हालांकि उसका कहना है कि चाहे कुछ हो जाए, वह गवाही जरूर देगा। उधर, घटना की जानकारी मिलते ही अधिकारियों में हड़कंप मचा है।

85 Total Views 2 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *