कंचनपुर घोपला के दलितों ने डाला कप्तान कार्यालय पर डेरा, जमकर हंगामा

Camp-at-the-captain's-office

मेरठ : देर रात परतापुर के कंचनपुर घोपला में दलितों और जाटों की बारातें आमने-सामने के बाद हुए संघर्ष के बाद गांव में तनाव है। पुलिस ने गांव को छावनी में तब्दील कर दिया है। वहीं, सोमवार को आरोपियांें की गिरफ्तारी की मांग को लेकर सैकड़ो दलितों ने कप्तान कार्यालय का घेराव करते हुए जमकर हंगामा किया।
बताते चलें कि रविवार की रात गांव में एक बारात मास्टर विक्रमसिंह के घर तो दूसरी बारात कृष्ण के घर पर आई थी। दोनों बारात रास्ते में आमने-सामने आ गईं, जिसके बाद डांस को लेकर दोनों पक्षों के बाराती भिड़ गए। दोनों ओर से जमकर फायरिंग और पथराव हुआ, जिसमें कई लोग घायल हो गए। वहीं कई घरों और गाड़ियों में तोड़फोड़ करते हुए आगजनी का प्रयास भी किया गया। जिसके बाद एसएसपी सहित कई थानों की फोर्स को मौके पर पहुंचकर मोर्चा संभालना पड़ा था। पुलिस ने कई लोगांे को हिरासत में भी लिया था। वहीं इस मामले में पुलिस पर एक पक्षिय कार्यवाही का आरोप लगाते हुए सोमवार की सुबह दलित समाज के सैकड़ो लोगों ने एसएसपी कार्यालय पर जमकर हंगामा किया। महिलाएं कार्यालय परिसर में धरना देकर बैठ गईं और जाट पक्ष पर कार्यवाही न होने तक एसएसपी कार्यालय न हटने का एलान कर दिया। कप्तान के मीटिंग में होने के कारण स्टाॅफ ने ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह टस से मस न हुए और हंगामा जारी था।

65 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *