पुलिसकर्मी बनकर दिन-दहाड़े रिटायर्ड कर्नल की पत्नी से लाखों के जेवर ठगे

मेरठ : मेडिकल थाना क्षेत्र में दो बदमाशों ने खुद को पुलिस बताते हुए रिटायर्ड कर्नल की पत्नी से लाखों के जेवरात ठग लिए। पीड़िता खुद भी डिग्री काॅलेज की रिटायर्ड प्रोफेसर हैं। आरोप है कि बार-बार काॅल करने के बावजूद घटना के 45 मिनट बाद पहुंची पुलिस पीड़िता से पूछताछ कर वापस लौट गई।
शास्त्रीनगर के मकान नंबर 621/6 निवासी पीएस शर्मा फौज से रिटायर्ड कैप्टन हैं। उनकी पत्नी सरोज आरजी डिग्री काॅलेज की रिटायर्ड प्रोफेसर हैं। सरोज के अनुसार बुधवार की सुबह करीब दस बजे वह किसी काम से चैधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय जा रही थीं। ई-रिक्शा न मिलने पर वह पैदल ही विवि के लिए चल दीं। इसी बीच विवि के निकट एसबीआई के सामने खड़े दो युवकों ने उन्हें आवाज देकर रोक लिया। दोनों युवक सिविल डेªस में थे, लेकिन उनकी शर्ट पर यूपी पुलिस लिखा था। सरोज ने बताया कि युवकों ने खुद को पुलिस अधिकारी बताया। एक युवक ने सरोज से कहा कि कल इस इलाके में लूट की कई घटनाएं हुई हैं, जिसके चलते उन्हें सिविल डेªस में निगरानी के लिए तैनात किया गया है। दोनों युवक सरोज को बातों में उलझाकर कुछ दूर ले गए। युवकों ने सुरक्षा का हवाला देते हुए उन्हें अपने जेवरात उतारकर पर्स मंेे रखने की सलाह दी। जिसके बाद सरोज के गले की चेन, दो चूढ़ी और डायमंड की अंगूठी उतरवाकर एक कागज की पुड़िया में बांध दी। इसके बाद उस पुड़िया को खुद ही सरोज के पर्स में रखकर उन्हें भेज दिया। कुछ दूर जाकर सरोज ने पुड़िया खोली तो उसमें लोहे का कड़ा रखा देख उनके होश उड़ गए। अपने साथ हुई ठगी का अहसास होते ही सरोज ने डायल 100 और मेडिकल थाने पर काॅल की। आरोप है कि कई बार काॅल करने के करीब 45 मिनट बाद पुलिस की गाड़ी मौके पर पहुंची और उन्हें तहरीर देने की सलाह देकर वापस लौट गई। पीड़िता ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ तहरीर दी है। ठगे गए गहनों की कीमत दो लाख से अधिक बताई गई है।

72 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *