आयुक्त ने किया गोद लिये ग्राम मुरलीपुर का औचक निरीक्षण

murlipur

मेरठ : आयुक्त डा0 प्रभात कुमार ने अपने गोद लिये ग्राम ब्लाॅक रजपुरा के ग्राम मुरलीपुर फूल का औचक निरीक्षण किया। आयुक्त ने विद्यालयों मंे बच्चों की शिक्षा का स्तर ऊंचा करने, बच्चों की उपस्थिति बढाने, बनाये गये शौचालय की उपयोगिता कायम रखने, तालाब के किनारे पेड़ व पिलर लगाने, ग्रामो में साफ सफाई की समुचित व्यवस्था करने के लिए निर्देशित किया। उन्होंने बच्चों को खिलौने दिये व उनसे प्रश्न कर शिक्षा का स्तर जाना।

आयुक्त डा0 प्रभात कुमार ने आईसीडएस प्रभारी से पूछा की कितने बच्चे हरे से लाल श्रेणी में आये व कितने आपके प्रयास से लाल से हरी श्रेणी में आये। उन्होंने विद्यालयों में बच्चों की उपस्थिति बढाने व शिक्षा का स्तर ऊंचा रखने के लिये उपस्थित अध्यापकों व आईसीडीएस कार्यकत्रियों से पढ रहे बच्चों को अपना बच्चों समझकर उसकी देखभाल करने व मन लगाकर व पूरी गम्भीरता से पढाने के लिये निर्देशित किया। उन्होंनें कहा कि अघ्यापक बच्चों को पाठ रटाये नहीं बल्कि ठीक से समझाये व बतायें। उन्होंने कहा कि वह हर माह स्कूलों का निरीक्षण करेंगे।

आयुक्त ने प्राथमिक विद्यालय के आंगनबाडी केन्द्र व सभी कक्षाओ का एक एक कर दौरा किया व बच्चों को अपने साथ लाये गये खिलौने दियें, खिलौने पाकर बच्चों के चेहरे पर खुशी की लहर दौड़ गयी। उन्होंने बच्चों से प्रश्न किये जिसमें देश का राष्ट्रपति कौन है, वह कहा रहते है, मुख्यमंत्री जी का नाम क्या है, शरीर में दिल किधर होता है, ज्ञानेन्द्रियां कितने प्रकार की होती है, मनुष्य कौन सी गैस शरीर में लेता व कौनसी छोड़ता है, देश व राष्ट्र क्या होता, प्राइम नम्बर क्या होता है, श्वसन क्या होता है सहित गणित के प्रश्न भी पूछे जिसमें से कुछ बच्चाों द्वारा सही उत्तर दिया गया, शेष मंे बच्चे उत्तर नहीं दे पायें।

आयुक्त ने ग्राम में ग्रामवासी चन्द्रकिरण व अन्यों के निवास पर बनायें गये शौचालयों को देखा उन्होंने गा्रमवासियों से शौचलय की उपयोगिता बरकरार रखने व खुले में शौच रन करने के लिए कहा। उन्होंने कुछ शौचालयों के लिये बनायें गये गडढों को खुदवाकर भी देखा कि उसका उपयोग किया जा रहा है या नहीं। उन्हांेने ग्राम में तालाबों की समय से सफाई कराने व तालाब के किनारे वृक्षारोपण व छोटे पिलर लगाने के लिए निर्देशित कियां।
संयुक्त विकास आयुक्त एबी मिश्रा ने बताया कि ग्राम की जनसंख्या 4025 हैं, उन्होंनें बताया कि ग्राम मंे तीन तालाब है, 153 शौचालय बनाये गये है, दो स्वंय सहायता समूह कार्यरत है। उन्हांेने बताया कि आज के निरीक्षण में आंगनबाड़ी केन्द्र में 125 पंजीकृृत बच्चों के सापेक्ष 35 बच्चे उपस्थित मिले, उन्होंने बताया कि प्रा0 विद्यालय में बच्चों की उपस्थिति भी कम पायी गयी जिसमें कक्षा 01 व 02 में 54 पंजीकृत के सापेक्ष 40, कक्षा 4 में 30 पंजीकृत के सापेक्ष 21, कक्षा 05 में 34 पंजीकृत के सापेक्ष 17 बच्चे उपस्थित मिलें।

मुख्य विकास अधिकारी आर्यका अखौरी ने बताया कि ग्राम में दो अतिकुपोषित व 19 कुपोषित बच्चे है जिनकों पुष्टाहार देकर व अन्य विधियों से पोषित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्यारे लाल शर्मा जिला अस्पताल में पोषण पुर्नवास केन्द्र मंे 600 बच्चों का इलाज कर उन्हें पोषित की श्रेणी में लाया गया है।

इस अवसर पर खण्ड विकास अधिकारी रवि प्रकाश, यूनिसेफ के मण्डल प्रभारी आशीष शुक्ला, प्रधान संजीव कुमार, ग्राम सचिव सहित अन्य अधिकारी एवं ग्रामवासी उपस्थित रहे।

100 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *