जनपद की सीमाओं पर हो सघन चैकिंग : पुलिस प्रेक्षक

0

मेरठ : लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2019 के लिए की गयी तैयारियों की समीक्षा करते हुए आज सामान्य प्रेक्षक डा0 नरेन्द्र कुमार गुप्ता एवं पुलिस पे्रक्षक केसर खालिद ने निर्देशित किया कि निर्वाचन के दौरान जनपद में जो भी सभाएं आयोजित की जाएं उनकी वीडियोंग्राफी अवश्य की जाए तथा वृहद स्तर पर मतदाता जागरूकता कार्यक्रम चलायें क्यों कि आयोग के निर्देश है कि मतदान करने के अधिकार से कोई भी मतदाता वंचित न रहे। उन्होंने कहा कि मतदान कार्य में जिन कार्मिको की डयूटी लगायी गयी है उनको बैलेट पेपर आदि के माध्यम से मतदान अवश्य कराया जाए।
बचत भवन सभागार में नोडल अधिकारियों के साथ निर्वाचन सम्बंधी तैयारी की समीक्षा बैठक की अध्यक्ष्ता करते हुए सामान्य प्रेक्षक डा0 नरेन्द्र कुमार गुप्ता ने कहा कि जनपद के क्रिटिकल एवं वल्नरेबिल बूथों पर विशेष सुरक्षा व्यवस्था का इंतजाम किया जाए तथा आयोग के निर्देशानुसार ऐसे बूथो की वेबकास्टिंग अवश्य करायी जाएं। उन्होंने कहा कि मजिस्ट्रेटों एवं मतदान कार्मिको को जो भी प्रशिक्षण दें वह प्रैक्टिकल आधार पर दें क्योंकि प्रैक्टिकल रूप से प्रशिक्षण करने में व्यवधान आने की समस्याएं कम हो जाती है।
उन्होंने कहा कि जिला निर्वाचन अधिकारी से कहा कि मतदान के 48 घंटे पूर्व सम्पूर्ण क्षेत्र में प्रचार प्रसार बंद कराने हेतु अभी से एक कार्ययोजना बना लें और अधीनस्थों को निर्देशित करें कि जनपद में किसी भी दशा में आचार संहिता उल्ल्ंाघन न हों। उन्होंने कहा कि निर्वाचन सम्बंधी कार्यो के लिए बेहतर योजना तैयार की जाए तथा हर विषम परिस्थिति से निपटने के लिए एक बैकअप प्लान भी अवश्य बनाया जाए।
उन्होंने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग की प्राथमिकता है कि कोई भी मतदाता वोट देने के अधिकार से वंचित न रहे इसके लिए वृहद स्तर पर मतदाता जागरूकता अभियान संचालित किया जाए। उन्होंने जिला निर्वाचन अधिकारी से कहा कि वह मतदान में लगे कार्मिको चाहे वह बस का ड्राइवर या हेल्पर ही क्यो न हो उनके मतदान कराने की व्यवस्था भी की जाए। उन्होंने बताया कि आयोग द्वारा दिव्यांगों के लिए मतदान केन्द्र्रों पर व्हील चेयर, रैम्प आदि सुविधाएं प्रदान करने की व्यवस्था की गयी है। उन्होंने कहा कि सभी विधानसभाओं में एक माॅर्डन बूथ बनाया जाए जहां मतदाताओं को सभी मूलभूत सुविधाओ के साथ हर प्रकार की जानकारी के लिए साइन बोर्ड लगाकर बेहतर सफाई व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।
सामान्य प्रेक्षक ने कहा पोलिंग पार्टियों की रवानगी के समय जो ईवीएम मशीनें दी जाए तथा सैक्टर मजिस्ट्रेटों के साथ रिजर्व में जो मशीने दी जाए उनको पूर्ण सुरक्षा व्यवस्था में रखा जाए। उन्होंने निर्देशित किया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा संचालित टोल फ्री नम्बर 1950 तथा सी -विगिल मोबाइल ऐप के माध्यम से प्राप्त होने शिकायतों को प्रतिदिन देखते हुए समय से निस्तारण किया जाए। उन्होंने निर्देशित किया कि बीएलओ के माध्यमों से मतदाता पर्ची एवं वोटर गाइड का वितरण कराया जाए।
पुलिस प्रेक्षक केसर खालिद ने कहा कि मतदान की गरिमा को जो भी व्यक्ति प्रभावित करें तो उसके विरूद्ध दण्डात्मक कार्रवाई अवश्य की जाए। उन्होंने कहा कि सभी थाना क्षेत्रों के शस्त्र लाईसेंसियों के शस्त्र थानों एवं शस्त्र की दुकानों पर अवश्य जमा किये जाए। उन्होंने निर्देशित किया कि जनपद की सभी सीमाओं में पैनी नजर रखते हुए चैकिंग की जाए ताकि जनपद जिला बदर, संदिग्ध लोग तथा अवैध शराब आने न पाये यदि कुछ ऐस मिले तो सम्बंधित के विरूद्ध कार्रवाई अवश्य करें। उन्होंने कहा कि आयोग के निर्देश है कि जो भी व्यक्ति मतदाओं को धमकाने तथा प्रलोभन देने का प्रयास करें उसके विरूद्ध भी प्राथमिकी दर्ज की जाए।
इस अवसर पर मा0 प्रेक्षकगणों ने मतदान कार्मिकों की नियुक्ति, प्रशिक्षण, वाहन अधिग्रहण,रूट चार्ट, कार्मिको के भोजन, कार्मिको के भत्ते, चिकित्सा व्यवस्था, एमसीएमसी, लेखन सामग्री, पोस्ट बैलेट, आदि तैयारियों की गहनता से समीक्षा करते हुए सम्बंधित नोडल अधिकारी को आवश्यक दिशा निर्देश दिये।
इस अवसर पर जिलाधिकारी अनिल ढींगरा, मुख्य विकास अधिकारी आर्यका अखौरी, अपर जिलाधिकारी प्रशासन रामचन्द्र, वित्त सुभाष चन्द्र प्रजापति, नगर महेशचन्द्र शर्मा, न्यायिक प्रवरणा अग्रवाल, एलए ज्ञानेन्द्र सिंह, सीएमओ डा0 राजकुमार, नगर आयुक्त मनोज चैहान, पीडी भानू प्रताप सिंह, डीडीओ डीएन तिवारी सहित संबधित नोडल अधिकारी उपस्थित रहें।

89 Total Views 2 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *