निजाम बदलते ही बूचड़खानों पर कहर बनकर टूटा पुलिस-प्रशासन

Crashing-of-the-Nizam-as-a-havoc-on-the-slaughter-houses,-broken-police-administration

मेरठ : प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के साथ ही भाजपा ने प्रदेश की जनता से किए गये वादों को पूरा करना शुरू कर दिया है। कल तक मीट माफियाओं से दहशत खाने वाले प्रशासनिक अधिकारी बुधवार को एक्शन मोड में नजर आए। पुलिस-प्रशासन, नगर निगम-एमडीए और विभिन्न विभागों की टीमों से संयुक्त रूप से कार्रवाई करते हुए खरखौदा क्षेत्र में कई मीट प्लांट सील कर दिए। हालांकि इस दौरान कई बूचड़खानों के मालिकों ने विरोध का प्रयास किया, लेकिन अधिकारियों से सख्त तेवर देख वह बैकफुट पर आ गए। प्रशासनिक अधिकारियों के अनुसार बूचड़खानों के खिलाफ चल रही कार्यवाही अभी जारी रहेगी। सील किए गए मीट प्लांट में कई प्लांट हाजी शाहिद अखलाक के परिवार के बताए जा रहे हैं।

बुधवार की सुबह का सूरज कई मीट प्लांट के मालिकों पर आग बरसाता हुआ निकला। सुबह दिन निकलने के साथ ही प्रशासन, पुलिस, नगर निगम, एमडीए, प्रदूषण विभाग और अन्य विभागों की टीमों ने संयुक्त रूप से शहर में अवैध रूप से चल रहे कमेलों के खिलाफ प्रभारी कार्रवाई शुरू की। इसी क्रम में खरखौदा के अल्लीपुर मार्ग स्थित कई मीट प्लांट पर छापा मारा गया। अधिकारियों ने बसपा नेता व पूर्व सांसद हाजी शाहिद अखलाक के भाई राशिद अखलाक के अल यासिर, अल अक्सा, अल कैफ मीट प्लांट सील करते हुए काम कर रही लेबर को बाहर निकाल दिया। वहीं वसीम अहमद के यूनिवर्सल एग्रो और यूनिवर्सल एग्रो इंडिया प्लांट को भी सील कर दिया। बताते चलें कि मंगलवार को इन दोनों प्लांट में छापेमारी के दौरान अधिकारियों को मुर्गी का दाना बनाने की आड़ में कटान होता मिला था। वहीं वैट फूड इंडिया को भी सील किया गया। अधिकारियों की टीमों ने ताबड़तोड़ छापेमारी करते हुए कई मीट प्लांट सील किए। इस दौरान मीट कारोबारियों में हड़कंप मचा रहा और कई संचालक अपने प्लांट पर ताले जड़कर मौके से फरार हो गए। कार्रवाई करने वाली टीम ने एडीएम सिटी से लेकर कई एसडीएम, कई सर्किल के सीओ और शहर और देहात के कई थानों की फोर्स शामिल रही। बताते चलें कि भाजपा ने प्रदेश के विधानसभा चुनावों में अपने एजेंडे में प्रदेश में अवैध रूप से चल रहे बूचड़खानों पर सख्त कार्यवाही का वादा किया था। सत्ता में आते ही भाजपा सरकार ने अपने वादों को पूरा करने की शुरूआत करते हुए सबसे पहले बूचड़खानों को निशाने पर लिया है। वहीं पुलिस-प्रशासन की कार्यवाही से मीट माफियाओं में हड़कंप मचा हुआ है।

3670 Total Views 2 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *