डीजीपी लेते रहे अधिकारियों की बैठक, व्यापारी की पत्नी को बंधक बना लूट करते रहे बदमाश

Crooks-looting-while-making-hostage

मेरठ : शनिवार को जब प्रदेश पुलिस के मुखिया ओपी सिंह पुलिस लाइन में अफसरों को ‘क्राइम कंट्रोल’ का पाठ पढ़ा रहे थे। ऐन उसी वक्त पर मवाना में पुलिस से बेखौफ बदमाशों ने एक व्यापारी के घर पर धावा बोल दिया। घर में अकेली व्यापारी की पत्नी को बंधक बना बदमाशों ने लाखों के जेवरात और नकदी लूट ली।
कस्बे की रामबाग काॅलोनी निवासी सुनील कुमार अग्रवाल का पुलिस चैकी के निकट अग्रवाल ढाबा है। वह ओशो की किताबें भी बेचते हैं। शनिवार को वह ढाबे पर गए थे। इसी बीच बाइक सवार दो युवक उनके घर पहुंचे। युवकों ने घर में मौजूद सुनील की पत्नी अलका से ओशो की किताब खरीदने की बात कही। किताब की बाबत अपने पति को काॅल करने के लिए जैसे ही अलका घर में गईं तो युवक भी उनके पीछे घर में दाखिल हो गए। दोनों बदमाशों ने अलका को गन प्वाइंट पर लेकर बंधक बना लिया। इसके बाद मात्र दस मिनट में घर में रखे दस तोले सोने के जेवरात और 30 हजार की नकदी लूट ली। लूटपाट के बाद अलका को कमरे में बंद कर बदमाश घर से फरार हो गए। किसी प्रकार बंधनमुक्त होकर अलका ने शोर मचाया तो क्षेत्रवासियों को घटना की जानकारी मिली। जानकारी के बाद पहुंची पुलिस को अलका ने बताया कि एक बदमाश हैलमेट पहने हुए था। गौरतलब है कि डीजीपी के दौरे को लेकर जहां पुलिस द्वारा शहर से देहात तक सुरक्षा के दावे किए जा रहे थे। ऐसे में मवाना में दिन-दहाड़े हुई लूट की घटना ने पुलिस के दावों की पोल खोलकर रख दी है।

90 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *