मिड डे मील के बदले मिली मौत!

Death-due-to-mid-day-meal

मेरठ : मवाना में बुधवार की सुबह अपने भाई के साथ रेसिस में लंच करने घर जा रहे कक्षा एक के छात्र को शुगर मिल में गन्ना लेकर आए ट्रक ने रौंद डाला। हादसे से गुस्साए ग्रामीणों ने ट्रक मेें तोड़फोड़ करते हुए आग लगाने का प्रयास किया। ग्रामीणों ने मिल पर धावा बोल दिया, जिससे दहशत में आए सिक्योरिटी गार्ड भाग खड़े हुए। ग्रामीणों ने मिल के कंप्यूटर रूम में तोड़फोड़ करते हुए कई कंप्यूटर तोड़ डाले। बाद में मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों को समझाते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। घटना के बाद से मृतक छात्र के परिवार में कोहराम मचा है।

कस्बे के मौहल्ला तिहाई का निवासी गोपाल मजदूरी करता है, वहीं उसकी पत्नी अनारकली सैनी पेपर मिल में कर्मचारी है। गोपाल के चार पुत्र हैं, जिनमें सबसे बड़ा विवाहित पुत्र दिल्ली में काम करता है, उसके साथ ही उससे छोटा भाई आशू रहता है। वहीं नमन और मनी मवाना की प्राइमरी पाठशाला में कक्षा दो और एक के छात्र हैं। बुधवार को पाठशाला में मिड डे मील नहीं मिला था, जिसके चलते नमन और मनी स्कूल की रेसिस मेें खाना खाने के लिए अपने घर जा रहे थे। बताया जाता है कि शुगर मिल रोड पर प्रीत विहार के सामने गन्ने से लदे एक ट्रक के चालक ने तेज गति से ट्रक को बैक किया। इसी दौरान ट्रक के पिछले पहिये सड़क पार कर रहे मनी को रौंद डाला। हादसे में मनी की मौके पर ही मौत हो गई, जिसके बाद चालक ट्रक छोड़कर फरार हो गया। यह नजारा देख रहे ग्रामीणों का गुस्सा फूट पड़ा और उन्होंने ट्रक में तोड़फोड़ करते हुए आगजनी का प्रयास किया।

ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि मिल प्रबंधन मिल के पीछे के गेट से ट्रकों को एंट्री देता है, जिसके चलते पहले भी कई हादसे हो चुके हैं, चूंकि इस मार्ग पर अक्सर बच्चे खेलते रहते हैं। ग्रामीणों ने मिल में दाखिल होते हुए गेट से ही तोड़फोड़ शुरू की तो सिक्योरिटी गार्ड ग्रामीणों के गुस्से को देखते हुए मौके से निकल भागे। ग्रामीणों ने मिल के कंप्यूटर रूम में रखे कई सीपीयू और कंप्यूटर तोड़ डाले। इसी बीच घटना की जानकारी मिलने पर इंस्पेक्टर मवाना राजेश चतुर्वेदी फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने हंगामा कर रहे ग्रामीणों को समझाते हुए ट्रक चालक और मिल प्रबंधन के खिलाफ कार्यवाही का आश्वासन दिया, जिसके बाद ग्रामीण शांत हुए। पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेजते हुए बच्चे के परिजनों को सूचना दी तो परिवार में कोहराम मच गया। दोपहर बाद तक घटना की रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई थी।

1886 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *