मौत की हाईटेंशन लाइन के नीचे लग रही बच्चों की क्लासरूम

school

मेरठ : रविवार को इंचौली क्षेत्र में हाईटेंशन लाइन का तार गिरने से एक युवक की मौत हो गई। जबकि कई अन्य घायल हो गए। लेकिन अभी भी सैकड़ों लोगों के उपर हाइटेंशन लाइन के तार मौत बनकर झूल रहे हैं। ताजा मामला गंगानगर में शनि मंदिर के सामने मदर्स प्राइड स्कूल का है। मेन डिवाइडर रोड पर स्थित यह स्कूल कहने के लिए तो दिल्ली की नामी कंपनी की फ्रैंचाइजी है। लेकिन यहां बच्चों की सुरक्षा कितने जिम्मेदार हाथों में है, वह आप फोटो में देख सकते हैं। हाईटेंशन लाइन में बहता हुआ करंट स्कूल में पढ़ रहे बच्चों के उपर से होकर गुजर रहा है। बिजली के तारों के ठीक नीचे मदर्स प्राइड स्कूल में छोटे बच्चों की क्लास लग रही हैं। इन तारों को देखकर यह नहीं कहा जा सकता है कि भविष्य में यहां कभी दुर्घटना न हो। इंचौली की तरह यहां भी यदि तार टूटकर स्कूल के उपर गिरता है तो इसका जिम्मेदार कौन होगा। अभिभावक भी शायद इसका जवाब नहीं ढूंढ पाएंगे। इस संबंध में जब स्कूल संचालक संयम गुप्ता से पूछा गया तो उन्होंने गैर-जिम्मेदाराना जवाब देकर पल्ला झाड़ लिया।

215 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *