खुले में शौच से फैलती है बीमारियां : डीएम चन्द्रकला

Diseases-that-open-from-open-defecation

मेरठ : जिलाधिकारी ने ग्रामवासियों से कहा कि विकास का मतलब बिल्डिंग, सड़के, वाहन, मोबाइल आदि से ही नही होता, बल्कि सबसे पहले हमें शिक्षित व आचरणवान बनना जरुरी होता है, जिसे हम दूसरों के प्रति व्यवहार में प्रदर्शित कर अपनी छाप छोडते है तथा बेहतर समाज की संरचना में योगदान दे सकें। उन्होंने कहा कि मानव मल एक बम्ब से भी खतरनाक है, जो हमें खुले में शौच द्वारा अनेक बीमारियों, सम्मान व सुरक्षा को प्रभावित करता है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण महिलायें घर में इज्जत घर न होने की दशा में खाना व पानी आदि का सेवन भी कम करती है, क्योंकि उन्हें खुले में शोच जाने में हर समय संकोच होता है, जिसका उनके स्वास्थ्य पर दुष्प्रभाव पड़ता है। जिलाधिकारी ने ग्राम प्रधान जितेन्द्र पाल सिंह से कहा कि वह गांव को ओडीएफ घोषित कराने में सभी ग्रामवासियों को प्रेरित कर सभी के यहां इज्जत घर का निर्माण करायें। उन्होंने ग्रामवासियों से कहा कि वे इस विशेष स्वच्छता सप्ताह में अपने घर को स्वच्छ रखने के साथ अपने आस-पास भी सफाई व्यवस्था बनाये तथा सार्वजनिक स्थानों पर कूडा करकट न डाले। उन्होंने ग्राम में निर्मित शौचालय का निरीक्षण करते हुए गुणवत्ता को जाचां जिसे देखकर हुए काफी प्रसन्न हुई और ग्राम प्रधान के इस कार्य की प्रशंसा की तथा ग्राम की सफाई व्यवस्था को भी देखा।

329 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *