मायावती को वोट न देने पर दलितों ने गैर बिरादरियों को जमकर पीटा, पथराव व फायरिंग के बाद तनाव

Do-not-vote-on-the-Dalits,-mayawati-fiercely-beaten-non-fraternities

मेरठ : इंचौली के मैथना गांव में होली के दिन दलितों ने गांव के गैर बिरादरी लोगों को जमकर पीटा। आरोप लगाया कि दलितों को छोडकर किसी भी बिरादरी के लोगों ने मायावती को वोट नहीं दिया। दलितों ने प्रजापति, चौहान व सैनी समाज के लोगों को गलियों में दौडा-दौडाकर पीटा। पथराव के बाद जमकर फायरिंग हुई। सूचना पर पहुंची पुलिस जीप के उपर भी पथराव करते हुए गाडी में तोडफोड की। हमले में पल्लवपुरम थाने के दो सिपाही भी घायल हो गए। गांव में तनाव को देखते हुए बीएसएफ के जवान तैनात कर दिए गए हैं।

पुलिस के मुताबिक, सोमवार को होली के त्यौहार पर दलित बिरादरी का आदेश प्रजापति मोहल्ले में पहुंचा और बीच गली में खडे होकर मायावती को वोट न देने का आरोप लगाते हुए गाली-गलौच करने लगा। प्रजापति पक्ष के ब्रजेश ने जब इसका विरोध किया तो बात मारपीट पर आ गई। दोनों के बीच मारपीट हो गई। इसके बाद आदेश ने अपने मोहल्ले में जाकर जानकारी दी। जिसके बाद दलित पक्ष के लोगों में उबाल आ गया और भीड की शक्ल में एकत्र होकर गांव में गैर दलित बस्तियों में पहुंच गए। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि दलित ग्रामीणों ने उग्र होकर प्रजापति, चौहान, सैनी आदि समाज के लोगों पर एकतरफा हमला बोलकर जमकर तांडव किया। पथराव व फायरिंग से बचने के लिए महिला व बच्चे घरों के अंदर कैद हो गए। लोग छतों पर खडे होकर एक-दूसरे को ललकारने लगे। सूचना पर दौराला, पल्लवपुरम, इंचौली, गंगानगर समेत चार थानों की पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची और भीड को खदेडा। सीओ सदर देहात यूएन मिश्रा ने बवालियों के घर पर दबिश डालने के आदेश दिए। गांव में तनाव को देखते हुए बीएसएफ के जवान तैनात कर दिए गए हैं।

4812 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *