डीएम के निर्देश पर शिक्षा विभाग के कार्यालयों में हुई छापेमारी की कार्रवाई

education

मेरठ : जिलाधिकारी अनिल ढींगरा के निर्देश पर आज अपरान्ह 03.30 बजे अपर नगर मजिस्ट्रेट अरविन्द कुमार सिंह एवं अपर उप जिलाधिकारी संतोष कुमार सिंह द्वारा क्रमशः जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी के कार्यालय एवं जिला विद्यालय निरीक्षक के कार्यालयों पर औचक छापामारी की गयी। छापेमारी कार्यवाही के दौरान 7 अधिकारी/कर्मचारी अनुपस्थित मिले जिनके विरूद्ध कार्रवाई कर उनसें स्पष्टीकरण तलब कर एक दिन का वेतन रोकने के निर्देश दिये तथा संतोषजनक स्पष्टीकरण न होने पर कर्मचारियों के निलम्बन की कार्रवाई अमल में लायी जाएगी।

जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने कहा कि जनता के कार्यो के निस्तारण में अनदेखी करने वाले अधिकारियों एवं कर्मचारियों को किसी भी दशा में बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि कार्यो के निस्तारण में सम्यबद्धता, गुणवत्ता, न पाये जाने पर भी सम्बंधित अधिकारियों के विरूद्ध कठोर कार्रवाई प्रस्तावित की जाएगी। उन्होंने बताया कि प्रायः उनके संज्ञान में आया है कि कार्यालयों में अधिकारी एवं कर्मचारी द्वारा समय से कार्यालय में उपस्थित न होने के कारण जनता अपने कार्यो के निस्तारण के लिए इधर‘-उधर भटकती रहती है, जो एक घोर अपराध है।

उन्होंने बताया कि ऐसे लापरवाह अधिकारियों/कर्मचारियों को चिन्हित करने के लिए आज शिक्षा विभाग में छापेमारी की कार्रवाही की गयी। उन्होंने बताया कि जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी के कार्यालय में छापेमारी की कार्रवाई अपर नगर मजिस्ट्रेट अरविन्द कुमार सिंह द्वारा की गयी। उन्होंने बताया कि जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी के कार्यालय में कुल 54 कर्मचारी कार्यरत है जिसमें से आज सुबह 45 कर्मचारियों द्वारा उपस्थिति दर्ज की गयी तथा 09 कर्मचारियों को अवकाश पर बताया गया, किन्तु छापेमारी के दौरान पाया गया कि 45 कर्मचारियों में से जिला समन्वय बालिका श्रीमती संतोष गोयल, लिपिक पंकज कुमार, चपरासी/ड्राइवर सुशील कुमार, चपरासी मनीष कुमार, कुलदीप व महेश कुमार कुल 06 कर्मचारी अनुपस्थित पाये गये।

उन्होंने बताया कि जिला विद्यालय निरीक्षक के कार्यालय में छापेमारी की कार्रवाई अपर उप जिलाधिकारी संतोष कुमार सिंह द्वारा की गयी। उन्होंने बताया कि जिला विद्यालय निरीक्षक के कार्यालय में कुल 23 कर्मचारी कार्यरत है, निरीक्षण के दौरान प्रधान सहायक प्रेमचन्द्र अनुपस्थित पाये गये। इसके अतिरिक्त सुरेन्द्र कुमार व यशपाल सिंह कर्मचारियों का उपस्थिति पंजिका में आकस्मिक अवकाश दर्ज पाया किन्तु अवकाश प्रार्थना पत्र नहीं प्राप्त हुआ।

जिलाधिकारी ने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी एवं जिला विद्यालय निरीक्षक को निर्देश दिये है कि वह छापे के दौरान अनुपस्थित कर्मचारियों का एक दिन का वेतन रोकते हुए उनसे स्पष्टीकरण तलब कर उनके समक्ष प्रस्तुत करें। उन्होंने कहा कि यदि स्पष्टीकरण संतोषजनक नहीं पाया जाएगा तो सम्बंधित कर्मचारियों/अधिकारियों के विरूद्ध निलम्बन की कार्रवाई अमल में लायी जाएगी।

जिलाधिकारी ने जनपद के सभी अधिकारियों/कर्मचारियों को स्पष्ट हिदायत देते हुए कहा है कि वह अपनी कार्यप्रणाली में सुधार लाकर पूर्ण सजगता एवं ईमानदारी से कार्य करें तथा इस प्रकार का औचक निरीक्षण आगे भी जारी रहेगा।

115 Total Views 2 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *