जानी में डेरी और दो घरों में भीषण आग लगने से 16 मवेशियों की मौत, लाखों का नुकसान

Fierce-fire

मेरठ : जानी थाना क्षेत्र में रविवार को डेरी और दो मकानों में भीषण आग लग गई। हादसे में 16 मवेशियों की मौत हो गई। वहीं दोनों घरों रखा लाखों का माल और हजारों की नगदी जलकर खाक हो गई।
सिवाल निवासी रहीसुद्दीन पुत्र रफीक मलिक की घर में डेरी है। रविवार करीब 11 बजे डेरी में अचानक आग लग गई। देखते ही आग ने डेरी सहित रहीसुद्दीन और पड़ोसी ताहिर पुत्र इस्लामुद्दीन के मकान को भी चपेट में ले लिया। जिसके बाद गांव में हाहाकार मच गया और मौके पर सैकड़ो ग्रामीणों की भीड़ लग गई। घटना की जानकारी फायर बिग्रेड को दी गई, लेकिन फायर बिगे्रड मौके पर नहीं पहुंची। ग्रामीणों ने खुद ही मोटर चलाकर पाइपों से पानी डालकर आग को बुझाना शुरू किया। ग्रामीणों ने हिम्मत दिखाते हुए डेरी में बंधे कुछ पशुआंे व दोनों घरों के कुछ सामान को बाहर निकाल लिया। घंटो मशक्कत के बाद आग बुझी, लेकिन तब तक डेरी में बंधे 39 में से 16 मवेशियों की मौत हो चुकी थी। वहीं दोनों घरों में रखा लाखों का सामान भी जलकर खाक हो गया। ताहिर ने बताया कि उसकी पुत्रियों जायदा व शायदा की शादियों के लिए घर में जमा किया गया दहेज का सामान और पचास हजार की नकदी भी जलकर राख हो गई। घटना के बाद पहुंचे पूर्व विधायक गुलाम मौहम्मद ने पीड़ितों को मुआवजे का आश्वासन दिया। घटना की जानकारी के बावजूद फायर बिग्रेड के मौके पर न पहुंचने को लेकर ग्रामीणों में रोष देखा गया।

314 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *