धार्मिक ग्रंथ के अपमान पर गुरूद्वारे में हंगामा, सदर थाने में दी तहरीर

dharmik-granth

मेरठ : रजबन बाजार स्थित उदासीन गुरूद्वारा में रविवार को धार्मिक ग्रंथ के पन्ने फटे मिलने के बाद सिख समाज के लोगों ने जमकर हंगामा किया। गुरूद्वारा प्रबंधन समिति ने शरारती तत्वों पर धार्मिक ग्रंथ के अपमान का आरोप लगाते हुए सदर थाने में तहरीर दी है।
रविवार की सुबह क्षेत्र की निवासी एक युवती गुरूद्वारे में सेवा के लिए पहुंची। उसने गुरू ग्रंथ साहेब के तीन-चार पन्ने फटे देखे तो वह उसे टेप से चिपकाने लगी। इसी बीच कुछ और महिलाएं भी वहंा पहुंच गईं और धार्मिक ग्रंथ के पन्ने फटे देख हंगामा शुरू कर दिया। मामले की जानकारी मिलने पर महर्षि वाल्मीकि उदासीन गुरूद्वारा समिति के अध्यक्ष राजेन्द्र मनोठिया, महामंत्री अशोक पार्चा और अन्य पदाधिकारी भी मौके पर पहुंच गए। घटना की खबर आग की तरह पूरे क्षेत्र में फैल गई और गुरूद्वारे में दर्जनों लोगों की भीड़ लग गई। क्षेत्र के निवासियों ने इसे शरारती तत्वों की हरकत बताते हुए हंगामा शुरू कर दिया। घटना की जानकारी के बाद मौके पर पहुंची सदर पुलिस ने लोगों को समझाते हुए शांत किया। गुरूद्वारा प्रबंधन समिति के पदाधिकारियों ने अज्ञात शरारती तत्वों के खिलाफ धार्मिक ग्रंथ के अपमान की तहरीर देते हुए उनके खिलाफ कार्यवाही की मांग की है।

186 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *