छोटे हाथी में गाय ले जा रही थी महिला, लोगों ने पीटा तो हुआ नया खुलासा

I-was-taking-small-elephant-cow-girl,-people-have-been-beaten-by-revealing

मेरठ : जिले में गोकशी पर अंकुश को लेकर हिंदु संगठन और प्रशासन जितनी कवायद कर रहे हैं, गोकशी से जुड़े लोग उनसे एक कदम चल रहे हैं। ऐसे लोगों ने अब गोकशी के लिए गायों को लेकर जाने के लिए भाड़े पर महिलाओं को हायर करना शुरू कर दिया है, जिससे किसी को शक न हो और उनका काम आसानी से चलता रहे। ऐसे ही एक मामले में बुधवार को भावनपुर क्षेत्र में एक महिला और पुरूष को गोवंश के साथ दबोचते हुए लोगों ने जमकर पीटा और पुलिस को सौंप दिया।

भावनपुर थाना क्षेत्र के मोरना गांव में गाय लेकर जा रही टाटा एस (छोटा हाथी) सड़क पर फंस गई। गांव के लोगों ने गाड़ी में सवार एक महिला और चालक से पूछताछ की तो वह घबराकर भागने लगे। जिसके बाद ग्रामीणों ने उन्हें दबोच लिया और गोकशी का आरोप लगाते हुए दोनों की धुनाई कर डाली। घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपियों से पूछताछ की तो शुरू में वह पुलिस को बरगलाते रहे, लेकिन सख्ती करने पर सच्चाई उगल दी। चालक ने अपना नाम अरशद पुत्र असगर निवासी मकबरा बजरियान मेरठ बताया। अरशद ने बताया कि उसे यह गाय नंगलासाहू से परतापुर के अछरौंडा ले जाने के लिए भाड़े के रूप में तीन सौ रूपये मिले थे। वहीं महिला ने अपना नाम सरिता पत्नी संजय निवासी भूड़बराल बताया। महिला ने बताया कि उसे गाय को एक स्थान से दूसरे स्थान पर पहुंचाने के लिए आठ सौ रूपये मिलते हैं। उसने बताया कि उसके मोबाइल पर कॉल करके गाय को लाने और ले जाने का स्थान बताया जाता है। गाय की सुपुर्दगी लेने वाला उसका भुगतान कर देता है। पूरे प्रकरण यह साफ हो गया है, कि गोकशों का कोई बड़ा गिरोह जनपद में सक्रिय है जो महिलाआें को हॉयर कर गायों को कटान के लिए इधर से उधर कर रहा है। पुलिस आरोपियों से पूछताछ के बाद जांच में जुटी है।

2676 Total Views 2 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *