जिलाधिकारी ने किया तहसील सदर के मतदाता पंजीकरण केन्द्र का निरीक्षण

0

मेरठ : जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने कहा कि प्रत्येक निर्वाचन की नीव त्रुटि रहित निर्वाचक नामावली रहती है इसलिए पुनरीक्षण कार्य मे लगे सभी अधिकारी एवं कर्मचारी सुनिश्चित करें कि जो अर्ह नागरिक 18 वर्ष की आयु प्राप्त कर चुका है या 01 जनवरी 2019 को प्राप्त करने वाला है उसको शुद्ध मतदाता पहचान पत्र प्रदान करते हुए मतदान का अधिकार दिया जाए। उन्होंने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग ने निर्देश जारी करते हुए प्राप्त दावे और आपत्तियों के निस्तारण की तिथि 22 दिसम्बर 2018 तथा निर्वाचक नामावलियों का अंतिम प्रकाशन अब 31 जनवरी 2019 को किया जाएगा।
उक्त विचार आज जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने तहसील सदर के मतदाता पंजीकरण केन्द्र का निरीक्षण करते हुए व्यक्त किये। उन्होंने पुनरीक्षण कार्य के तहत तहसील सदर में प्राप्त हुए दावे और आपत्तियों का परीक्षण करते हुुए उनमें लगायें साक्ष्यों, घोषणाओं को सही प्रकार से लगाने तथा वोट काटने के सम्बंध में दिये गये नोटिस की प्राप्ति की रसीद फार्म-7 में समय से लगाने के निर्देश दिये। उन्होंने निर्देश देते हुए बताया कि भारत निर्वाचन आयोग ने प्राप्त दावे और आपत्तियों के निस्तारण की तिथि को 10 दिसम्बर से बढाकर 22 दिसम्बर 2018 कर दिया है तथा अब निर्वाचक नामावलियों का अंतिम प्रकाशन 15 जनवरी के स्थान पर 31 जनवरी 2019 को किया जाएगा। उन्होंने निर्देशित किया कि जो भी दावे और आपित्तया प्राप्त की गयी है उस पर सम्बंधित बीएलओ, सुपरवाइजर, एईआरओ के हस्ताक्षर अवश्य करायें।
तहसील सदर के मतदाता पंजीकरण केन्द्र में बीएलओ द्वारा किये गये पुनरीक्षण कार्य को जांचते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि जो भी दावे और आपत्तियां प्राप्त हुई है उनको समय से पारदर्शिता एवं निष्पक्षता के साथ जांचा जाए तथा सुनिश्चित करें कि कोई पात्र नागरिक मतदाता पहचान पत्र के लाभ से वंचित न रहें ।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन रामचन्द्र, एसडीएम सदर निशा अनंत, नगर मजिस्ट्रेट शैलेन्द्र कुमार सिंह, एसीएम अमिताभ यादव, कमलेश गोयल, सनीता सिंह, तहसीलदार सदर संतोष कुमार, रजिस्ट्रार कानूनगो एसबी तिवारी, शान ए हैदर, हरबीर सिंह सहित तहसील के अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

147 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *