स्कूलों में धूमधाम से मनायी गई कृष्ण जन्माष्टमी

Krishna-Janmashtami

मेरठ : श्री कृष्ण भगवान जन्म के उपलक्ष्य में पूरें भारत के सभी राज्यों, शहरों, व छोटें-छोटे गॉवों में श्री कृष्ण भगवान जी के मंदिरों को बहुत अच्छी तरह से सजाया गया हैं, चारों ओर हर्षाेउल्लास का आनंद आ रहा है, कई जगह पर तो कृष्ण भगवान के जन्म दिवस के रूप में मेलें, झाकियों का आयोजन किया जा रहा है।

शहर के विभिन्न स्कूल में जन्माष्टमी का उत्सव बड़ी धूम-धाम व हर्षाेउल्लास के साथ मनाया गया। जन्माष्टमी के अवसर पर साकेत स्थित अमेरिक किडस के बच्चों ने अनेक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये, जिसमें बच्चों ने अपनी संस्कृति एंव कृष्ण जन्म व कृष्ण-सुदामा मित्रता का रोचक प्रसंग प्रस्तुत किया, जिसे देखकर दर्शकों का मन आनन्द और प्रेम से भर गया। बच्चों ने अनेक नृत्य नाटिकाए भी प्रस्तुत की, जिनमें राधा तेरी चुनरी ओर श्याम बंसी बजाते हो ने सभी का मन मोह लिया। इस अवसर पर विद्यालय के चेयर मैन ने सभी को जन्माष्टमी का महत्व बताया और कृष्ण जन्म की बधाई दी।

इस कार्यक्रम में विद्यायल के प्रधानाचार्य एवं सभी शिक्षक एवं शिक्षिकाओं ने सहयोग दिया। वहीं श्रद्धापुरी स्थित मेरठ पब्लिक स्कूल द फस्र्ट स्टेप में बच्चों ने जन्माष्टमी महोत्सव बड़ी धूमधाम से मनाया। किंडर गार्डन के बच्चों ने कृष्ण भजन के साथ-साथ नृत्य भी प्रस्तुत किया जो सभी को बहुत अच्छा लगा। साथ ही बच्चों ने दही हांडी का खेल भी खेला, जिसमें बच्चों ने पिरामिड बनाकर मटकी फोड़ी। छोटे-छोटे बच्चे कृष्ण जी की वेशभूषा में बड़े ही सुंदर लग रहे थे। इसके अलावा बच्चों ने कृष्णा मूवी का आनंद उठाया। विद्यालय की प्रधानाचार्या सोनू साहनी ने छात्रों को जन्माष्टमी की शुभकामनाएं दीं तथा बताया कि छात्रों के ज्ञानवर्धन के लिये विद्यालय में त्यौहारों पर इस प्रकार के कार्यक्रम कराये जाते हैं जिससे छात्रों को त्यौहार की पूरी जानकारी प्राप्त होती है।

बागपत गेट स्थित स्वीट एजेल्स प्ले स्कूल मे जन्माष्टमी का पर्व मनाया गया, जिसमें सभी बच्चे राधा कृष्ण, गोपी व ग्वाला आदि की वेशभूषा में नजर आये। इस अवसर पर स्वीट् ऐजेंल्स के बच्चों ने अपनी शिक्षिकाओ के सहयोग से भगवान श्री कृष्ण की बाल लीलाओं से लेकर रास लीला तक सभी का वर्णन एक सुन्दर नाट्कय द्वारा प्रस्तुत किया व नटखट नटखट जमुना के तट गीत पर नृत्य भी किया गया। जन्माष्टमी के इस अवसर पर आकर्षण का केन्द्र माखन खाते बाल गोपाल रहे। कार्यक्रम का शुभारम्भ विजय स्वामी व प्रधानाचार्य श्वेता वर्मा ने कान्हा के समक्ष माखन मिसरी का भोग लगाकर किया। जन्माष्टमी के उपलक्ष्य में प्रधानाचार्या श्वेता वर्मा ने बच्चों को जन्माष्टमी के बारे में बताया कि इस दिन श्री कृष्ण जी जन्म हुआ था। उनके जन्म के उपलक्ष्य में पूरे भारतवासी जन्माष्टमी को बड़ी धूमधाम से मनाते है। इस अवसर पर सभी बच्चों को उपहार के रूप में श्री कृष्ण की बासुरी को बांटा गया। कार्यक्रम को सफल बनाने में सभी शिक्षिकाओं को विशेष योगदान रहा।

642 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *