वरिष्ठ अधिवक्ता ओपी शर्मा के पुत्र तरूण की हत्या के मामले में आरोपी लविन्द्र दोषी करार, ब्रहस्पतिवार को होगा फैसला

martak-tarun

मेरठ : मेरठ के वरिष्ठ अधिवक्ता ओपी शर्मा के अधिवक्ता पुत्र तरूण की हत्या के मामले में गाजियाबाद कोर्ट ने आरोपी लविन्द्र को दोषी ठहराया है। इस मामले में ब्रहस्पतिवार को कोर्ट सजा का निर्णय सुनाएगी।
बताते चलें कि वर्ष 2014 की 21/22 दिसंबर की रात स्वामीपाड़ा निवासी वरिष्ठ अधिवक्ता ओपी शर्मा के पुत्र तरूण शर्मा की घर के बाहर ही गोलियां बरसा कर हत्या कर दी गई थी। तरूण भी वकील थे और उनकी अच्छी खासी पै्रक्टिस थी। इस मामले में ओपी शर्मा ने आरोपी लविन्द्र तोमर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। ओपी शर्मा की कड़ी पैरोकारी के चलते जेल में बंद आरोपी लविन्द्र का केस मेरठ के किसी भी अधिवक्ता ने लड़ने से इंकार कर दिया था। जिसके बाद आरोपी ने पहले हाईकोर्ट और बाद में सुप्रीम कोर्ट में केस को किसी अन्य जिले में स्थानांन्तरित किए जाने की अपील की थी। इस पर सुप्रीम कोर्ट ने 16 सितंबर 2015 को उक्त केस को गाजियाबाद के स्पेशल जज कोर्ट में ट्रांसवर कर दिया था। वहीं घटना के बाद से आरोपी भी गाजियाबाद जेल में बंद था। मंगलवार को इस मामले में सुनवाई करते हुए स्पेशल जज ईसी एक्ट रामकिशोर शुक्ला ने आरोपी लविन्द्र तोमर को तरूण की हत्या में दोषी करार दिया। इस मामले में ब्रहस्पतिवार को कोर्ट सजा का निर्णय सुनाएगी। हत्यारोपी लविन्द्र तोमर को कड़ी सुरक्षा में जेल भेज दिया गया। वहीं पुत्र की हत्या के तीन वर्ष बाद आए अदालत के फैसले ने तरूण के परिजनों के दिलों पर लगे गहरे जख्मों पर फौरी तौर पर मरहम का काम किया है। हालांकि परिजनों का कहना है कि जब तक आरोपी फांसी के फंदे पर नहीं झूलता तब तक न तो तरूण की आत्मा को शांति मिलेगी और न ही वह चैन से बैठेंगे।

97 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *