जल्द हो सकता है जिला पंचायत मे तख्ता पलट, विपक्षी सदस्यों के होली मिलन में पहुंचे नवाजिश

May-soon-get-split-in-the-district-panchayat,-newly-elected-representatives-of-the-opposition-members

मेरठ : प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के साथ ही मेरठ के जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी का तख्ता पलट भी लगभग तय माना जा रहा है। शनिवार को भाजपा और अन्य विपक्षी सदस्यों ने होली मिलन मिलन के बहाने गंगानगर में एक बैठक का आयोजन किया। बैठक में सपा के पूर्व कैबिनेट मंत्री शाहिद मंजूर के पुत्र नवाजिश की उपस्थिती ने तय कर दिया है कि सीमा प्रधान की कुर्सी जानी लगभग तय है। हालांकि नवाजिश का कहना है कि उन्हें होली मिलन के बहाने बैठक में बुलाया गया था। लेकिन अतुल समर्थकों पर गुंडागर्दी का आरोप लगाने से भी वह नहीं चूके।

जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी बचाने को लेकर जहां जिला पंचायत अध्यक्ष सीमा प्रधान ने फफूंडा में संदीप प्रधान के घर पर समर्थक सदस्यों की एक बैठक बुलाई। वहीं भाजपा के कुलविंदर ने भी गंगानगर के दीप रेस्टोरेंट में विपक्षी सदस्यों के लिए होली मिलन का आयोजन किया। फफूंडा में सीमा प्रधान द्वारा बुलाई गई बैठक में जहां बीस सदस्यों के पहुंचने का दावा किया गया, वही गंगानगर में हुए होली मिलन समारोह ने सीमा प्रधान गुट द्वारा किए जा रहे दावों की हवा निकाल दी। विपक्षियों के होली मिलन में सपा के कैबिनेट मंत्री शाहिद मंजूर के पुत्र वार्ड 31 से नवाजिश सहित सपा समर्थक जिला पंचायत सदस्य वार्ड 19 से शफीक, वार्ड 22 से शमशाद, वार्ड 27 से डब्बू प्रधान, वार्ड 11 से विनोद कालंदी सहित सपा के कुल पांच सदस्य मौजूद रहे। वहीं भाजपा व अन्य दलों से वार्ड 1 से कुलविंदर सिंह, वार्ड 3 से नितिन, वार्ड 4 से बबीता भड़ाना, वार्ड 6 से मुकेश, वार्ड 7 से ललित चौहान, वार्ड 8 से हेमा, वार्ड 10 से बबीता ठाकुर, वार्ड 12 से विपिन तालियान, वार्ड 13 से मनोज चौहान, वार्ड 14 से प्रदीप हुड्डा, वार्ड 15 से मीनाक्षी भराला, वार्ड 17 से विनोद, वार्ड 18 से रविन्द्र, वार्ड 20 से सुमित, वार्ड 21 से कुसुम प्रधान के पति, वार्ड 23 से डा विनोद, वार्ड 24 से सतपाल, वार्ड 25 से दिनेश चौहान, वार्ड 28 से जीतू चौधरी, वार्ड 29 से अनुज वाल्मीकि आदि से समर्थन मिलने का दावा किया जा रहा है। वहीं वार्ड 26 के विक्की तनेजा और वार्ड 33 के रोहताश पहलवान ने लखनऊ से फोन पर समर्थन दिया है।

कुलविंदर के पिता मुखिया गुर्जर ने दावा किया कि शीघ्र ही सभी भाजपा समर्थक जिला पंचायत सदस्यों के शपथ पत्र डीएम को सौंपकर अविश्वास प्रस्ताव पारित किया जाएगा। वहीं इस मामले में मंत्री पुत्र नवाजिश का कहना है कि वह होली मिलन समारोह में शामिल होने गए थे। उन्होंने जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी गिराने की बात से इंंकार किया। लेकिन उनकी बातों में अतुल और उनके बीच चली आ रही राजनैतिक प्रतिद्धंधता खुल कर सामने आई। उन्होंने आरोप लगाया कि जिला पंचायत सीमा प्रधान के कार्यकाल में उनके पति अतुल के गुंडो ने मनमानी की है। जिला पंचायत सदस्यों को मारापीटा गया और महिलाओं को भी नहीं बख्शा गया। अतुल का नाम लिए बिना उन्होंने कहा कि कुछ लोगों ने मुख्यमंत्री की साख कमजोर करने में कोई कसर नहीं छोड़ी जिसका नतीजा विधानसभा चुनावों में देखने को मिला। उनका कहना था कि पूर्व में सिर्फ मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के कहने पर उन्होंने सीमा प्रधान को वोट दिया था। उन्होंने कहा कि उनका परिवार अच्छे लोगों के साथ है, और भविष्य में भी अच्छे लोगों के साथ रहेगा। नवाजिश के बयान के बाद जिला पंचायत की राजनीति में भूचाल आ गया है, कयास लगाया जा रहा है कि शीघ्र ही जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी का तख्ता पलट हो सकता है।

2799 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *