अब आसान नहीं मानव तस्करी, नई तकनीकों से लैस हो गई पुलिस

No-easy-human-trafficking,-armed-with-new-techniques

मेरठ : पुलिस लाइन सभागार में मानव तस्करी, पोस्को अधिनियम, गुमशुदा बालक, बालिकाओं एवं बाल श्रम के संबंध में दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें विशेष किशोर पुलिस ईकाई के सदस्यों, बाल कल्याण अधिकारियों को प्रशिक्षण एवं जानकारी दी जाएगी। शक्ति वाहिनी नई दिल्ली की चार सदस्य टीम द्वारा परिक्षेत्र स्तर पर दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया है।

सोमवार को पुलिस लाईन के मीटिंग हाल में उत्तर प्रदेश सरकार की विशेष कार्य योजना वर्ष 2016-17 के अनुसार कार्यशाला का आयोजन पुलिस लाईन के सभागार में आरम्भ किया गया। जो मंगलवार को पूर्वाहन तक चलेगा। कार्यशाला में सीओ कोतवाली रणविजय सिंह, सीओ क्राइम ज्ञानवती तिवारी, बाल कल्याण समिति के सदस्य राजन त्यागी, अनिता राणा चाइल्ड लाइन की टीम के साथ जिला बाल सरक्षण अधिकारी, विशेष किशोर पुलिस इकाई के सभी सदस्य एवं थानों पर नियुक्त बाल कल्याण अधिकारी, शशी प्रकाश यादव प्रभारी निरीक्षक थाना एएचटीयू की टीम के साथ मौजूद रहे।

जनपद गाजियाबाद से थाना एएचटीयू की टीम एवं थानों के बाल कल्याण अधिकारी कार्यशाला में उपस्थित रहे। कार्यशाला का संचालन निशीकान्त शक्ति वाहिनी नई दिल्ली एवं सीओ ज्ञानवती तिवारी के नेत्तृव में किया गया। सीओ रणविजय सिंह ने गुमशुदा बालक, बालिकाओं की तलाश करने के अपने अनुभव से सभी को अवगत कराया गया। मानव तस्करी रोकने के संबंध में शक्ति वाहिनी नई दिल्ली के निशीकांत द्वारा विस्तार से बताया गया। अन्य वक्ताओं में अनिता राणा ने विस्तार से सभी विषयों पर प्रकाश डाला।

1204 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *