अनाथ बच्चों ने प्रधानमंत्री को लिखा खत, मां के छोड़े 96 हजार के पुराने नोटों की एफडी करवा दें

old-notes

राजस्थान में कोटा के रहने वाले अनाथ नाबालिग भाई-बहन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिटठी लिखी है। इसमें उन्होंने नोटबंदी के कारण उनके समक्ष आई तकलीफ का जिक्र किया है। उन्होंने खत में लिखा है कि उनकी स्वर्गीय मां ने मेहनत मजदूरी कर उनके लिए पांच सौ व एक हजार के पुराने नोटों के रूप में 96500 रूपये जमा किए थे। इन्हें नए नोटों में बदलवा दें या बहन के नाम इसकी एफडी करवा दें। दरअसल, सूरज और सलोनी की मां पूजा बंजारा दिहाडी मजदूरी करती थी। वर्ष 2013 में उनकी कथित रूप से हत्या कर दी गई थी। पिता राजू बंजारा की पहले मौत हो चुकी थी। अब दोनों भाई-बहन अनाथ हो चुके हैं और कोटा की एक संस्था में रह रहे हैं। बाल कल्याण समिति, कोटा के चेयरमैन हरीश गुरबक्शी ने बताया कि काउंसलिंग के दौरान दोनों ने बताया था कि आरके पुरम और सरवाडा गांव में उनके घर हैं। बाल कल्याण समिति के आग्रह पर पुलिस ने इस माह की शुरूआत में सरवाडा में उनके पुश्तैनी मकान की तलाशी कराई तो सोने-चांदी के जेवरात और एक बाक्स में एक हजार के 22 व 500 के 149 पुराने नोट मिले।

2051 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *