चिल्लाते रहे आग में फंसे लोग, लेकिन नहीं पहुंची फायर बिग्रेड

मेरठ : लिसाड़ी गेट क्षेत्र के श्यामनगर में देर रात सेवैयों के कारखाने में भीषण आग लग गई। क्षेत्र के लोगों ने दरवाजे तोड़कर कारखाने में काम कर रहे मजदूरों को बाहर निकालते हुए फायर बिग्रेड को घटना की जानकारी दी। क्षेत्र के लोगों बाल्टियों में पानी खुद ही आग बुझाई, लेकिन फायर बिग्रेड मौके पर नहीं पहुंची, जिसे लेकर क्षेत्र के निवासियों में रोष है। वहीं घटना में करीब तीन लाख का नुकसान हुआ है।

अहमदनगर निवासी सल्लू का श्यामनगर में हरी मस्जिद के पास सेवैयों का कारखाना है। सोमवार की रात करीब दर्जन भर मजदूर कारखाने में काम कर रहे थे। बताया जाता है कि जैसे ही एक मजदूर ने भट्टी में आग लगाई तो चिमनी से आग का शोला उठा और कारखाने की छत पर सूख रहे माल को चपेट में ले लिया। सूखे माल में आग लगने से पूरा कारखाना देखते ही देखते आग की चपेट में आ गया। कारखाने में फंसे मजदूरों की चीख-पुकार सुनकर आसपास के लोगों ने कारखाने के भीतर फंसे मजदूरों को दरवाजे तोड़कर बाहर निकाला। घटना की जानकारी के बाद डायल 100 की एक गाड़ी मौके पर पहुंची लेकिन पुलिसकर्मी हाथ बांधकर खड़े रहे। वहीं जानकारी के बाद भी फायर बिग्रेड की गाड़ी मौके पर नहीं पहुंची। क्षेत्र के निवासियों ने खुद ही बाल्टियों और नलों से पानी भरते हुए घंटो मशक्कत के बाद बुझाई, लेकिन तब तक पूरा कारखाना खाक हो चुका था। घटना के बाद सकते में आए कारखाना संचालक सल्लू ने बताया कि आग में करीब तीन लाख का नुकसान हुआ है। उधर, फायर बिग्रेड के मौके पर न पहुंचने को लेकर क्षेत्र के लोगों में रोष है।

381 Total Views 2 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *