पुलिस का खेल, बेकसूर को फर्जी मुकदमे में भेज दिया जेल

Sent-to-jail-in-fake-case

मेरठ : भारतीय किसान यूनियन ने सोमवार को एसएसपी कार्यालय पर प्रदर्शन करते हुए हंगामा किया। उन्होंने आरोप लगाया कि गांव के सीधे-साधे युवक को सरधना पुलिस बेवजह ही झूठे मुकदमें में फंसा रही है, जबकि युवक किसी भी आपराधिक मामलें में संलिप्त नही रहा है।

भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले सोमवार को दर्जनों किसानों ने राकेश टिकैत के नेतृत्व में पुलिस कार्यालय पर प्रदर्शन किया। इस दौरान भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने बताया कि सरधना थानाक्षेत्र के छुर्र गांव निवासी राम कुमार पुत्र धारा सिंह परिवार संग रहता है, जो सीधा-साधा व गांव में ही खेती करने वाला किसान है। बीतें 17 मार्च को सरधना पुलिस ने जबरन रामकुमार को घर से उठा लिया और झूठे मुकदमें में जेल भेज दिया। प्रदर्शन कर रहें किसानों ने बताया कि कुख्यात सुमित जाट के बारें में पुलिस रामकुमार से पूछताछ कर रही थी, जिसकी गिरफ्तारी न होने के चलते सरधना पुलिस रामकुमार को बेवजह ही झूठे मुकदमें में फंसा रही है, जबकि रामकुमार किसी आजतक किसी भी आपराधिक मामलें में संलिप्त नही रहा। उन्होेंने युवक पर दर्ज मुकदमा खारिज न किए जाने पर आंदोलन की चेतावनी दी है। बताते चलें कि जेल भेजा गया रामकुमार कुख्यात सुमित जाट का बहनोई है, जिसे पुलिस ने अवैध हथियार बरामद दिखाते हुए जेल भेज दिया है।

1323 Total Views 2 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *