थाने में एसओ के हमराह की पिस्टल छीनकर बोली सपा नेत्री भेजा उड़ा दूंगी…

Such-a-person-has-been-killed-in-a-murderous-assault-on-SP-leader

मेरठ : कंकरखेड़ा थाने में मौजूद पुलिसकर्मियों में शुक्रवार को उस समय हड़कंप मच गया, जब सपा नेत्री ने एसओ के हमराह के पिस्टल छीनकर अपनी कनपटी पर तान दी। सपा नेत्री ने अपने ऊपर हुए जानलेवा हमले में शामिल आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए थाने में हंगामा खड़ा कर दिया और सपा के झंडे को गले में डालकर उससे फांसी लगाने की धमकी देने लगी। बाद में पुलिसकर्मियों ने किसी प्रकार सपा नेत्री को समझाते हुए उससे पिस्टल वापस ली।

गौरतलब है कि खुद को सपा नेत्री होने का दावा करने वाली श्रद्धापुरी निवासी नेहा गौड़ अंशुल नाम के एक युवक के साथ रह रही थी। दो दिन पूर्व अंशुल के परिवार वालों ने सपा नेत्री के घर पर हमला बोलते हुए उसके साथ मारपीट की और अंशुल को जबरन उसके घर से उठा कर ले गए थे। इस मामले में सपा नेत्री नेहा गौड़ ने दो महिलाओं सहित सभी आरोपियों के खिलाफ जानलेवा हमले की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। शुक्रवार को नेहा गौड़ कंकरखेड़ा थाने पहुंची और आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए हंगामा खड़ा कर दिया। इसी बीच उसने उसने एसओ के हमराह कांस्टेबल पुष्पेन्द्र शुक्ला की सर्विस पिस्टल छीन ली और अपनी कनपटी पर तान दी। यह नजारा देख थाने के स्टॉफ में हड़कंप मच गया। सपा नेत्री खुद का भेजा उड़ाने की धमकी देने लगी। किसी प्रकार उसे समझाबुझा कर पिस्टल वापस ली गई तो उसने अपने गले में पहने सपा से झंडे से खुद का गला दबाना शुरू कर दिया और आरोपियों की गिरफ्तारी न होने पर जान देने की धमकी देने लगी। थाने में मौजूद पुलिसकर्मियों ने उसे किसी प्रकार शांत करते हुए वापस भेजा। वहीं एसओ कंकरखेड़ा के अनुसार, सपा नेत्री द्वारा पिस्टल छीने जाने की बात से इंकार किया गया है। उन्होंने बताया कि आरोपियों से कोर्ट में सरेंडर एप्लीकेशन डाली है, जिस पर 15 तारीख को सुनवाई होनी है। उन्होंने आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी का दावा किया। हालांकि पूरे दिन यह मामला थाने में चर्चा का विषय बना रहा। सवाल यह उठता है कि थाने में एसओ के हमराह की पिस्टल छीने जाने में पुलिस सपा नेत्री के खिलाफ कार्यवाही से क्यों बच रही है?

2341 Total Views 2 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *