राज्यपाल के हाथों डिग्री पाकर गौरवान्वित हुए छात्र-छात्राएं

Students-honored-with-degrees-at-the-hands-of-the-Governor

मेरठ : चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय में शुक्रवार को 28वां दीक्षांत समारोह धूमधाम के साथ संपन्न हुआ। इस मौके पर पहली बार मेडिकल के छात्र भी दीक्षांत समारोह में शामिल हुए। राज्यपाल राम नाइक ने मेघावी छात्र-छात्राओं को डिग्रियां और मेडल्स देकर सम्मानित किया तो वह खुशी के मारे झूम उठे। राज्यपाल ने युवाओं को नेकनियती के साथ अपने कर्म में जुटे रहने की सलाह दी।

सुबह प्रदेश के राज्यपाल एवं कुलाधिपति राम नाइक विशेष विमान द्वारा परतापुर स्थित हवाई पट्टी पर पहुंचे। यहां से वह कार द्वारा चौ. चरण सिंह विश्वविद्यालय (सीसीएसयू) के दीक्षांत समारोह में शामिल होने पहुंचे। गॉर्ड आॅफ आॅनर लेने के बाद उन्होंने मुख्य अतिथि भारत सरकार के सचिव एवं वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद के महानिदेशक गिरीश साहनी के साथ मां सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्जवलित करते हुए कार्यक्रम का शुभारंभ किया। कार्यक्रम की शुरूआत करते हुए कुलपति नरेन्द्र कुमार अनेजा ने राज्यपाल राम नाइक का जीवन परिचय दिया। नेताजी सुभाष चंद्र बोस प्रेक्षागृह में आयोजित दीक्षांत समारोह में कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए राज्यपाल राम नाइक ने छात्र-छात्राओं को पीएचडी, परास्नातक और एमफिल की डिग्रियां और उपाधी प्रदान कीं।

दीक्षांत समारोह में मेधावियों को मेडल देते हुए उन्हें दीक्षा दी गई। इस मौके पर डीलिट की चार, एलएलडी की एक, पीएचडी में 212, एमडीएस में 101, एमबीबीएस में 94, एमडी में 32, एमएस में 14, डीएम में एक, डिप्लोमा में 16, पीजी में 433, एमफिल में 117, स्नातक में 425 उपाधियां दी गर्इं। दीक्षांत समारोह में वर्ष 2015 और वर्ष 2016 के मेधावी छात्र छात्रओं को मेडल दिए गए। वर्ष 2016 में एक मेधावी को कुलाधिपति रजत पदक और पदक प्रमाणपत्र, दो को भारत के पूर्व राष्ट्रपति डा. शंकर दयाल शर्मा स्वर्ण पदक और पदक प्रमाणपत्र, दो को चौ. चरण सिंह स्मृति प्रतिभा पुरस्कार, 112 छात्रों को कुलपति स्वर्ण पदक और पदक प्रमाणपत्र, 31 को प्रायोजित स्वर्ण पदक, 133 को विशिष्ट योग्यता प्रमाणपत्र दिए गए। वर्ष 2015 में 15 को कुलपति स्वर्ण पदक, पांच को प्रायोजित स्वर्ण पदक, 18 को विशिष्ट योग्यता प्रमाणपत्र दिया गया। छात्रों को संबोधित करते हुए राज्यपाल ने उन्हें अनुशासन और कर्तव्यनिष्ठा का पाठ पढ़ाया। उन्होंने छात्रों को गुरूजनों, परिजनों और राष्ट्र का सम्मान करने की शपथ भी दिलाई। कार्यक्रम में एनसीसी कैडे्टस ने विशेष कार्यक्रम प्रस्तुत करते हुए चार चांद लगा दिए। विवि में कार्यक्रम की समाप्ति के बाद राज्यपाल भोज में शामिल होने के बाद वापस लौट गए।

776 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *