जिला जज की पहल से कप्तान और वकीलों के बीच सुलह

ssp

मेरठ : वकीलों और कप्तान के बीच चल रहे विवाद का सोमवार को जिला जज चंद्रहास की पहल से पटाक्षेप हो गया। जिला जज के चैंबर में हुई समझौता वार्ता में कप्तान ने वकीलों को अपना साथी बताते हुए सभी गलतफहमियां दूर कीं। अब वकीलों ने 25 अक्टूबर से कचहरी में कामकाज पर लौटने का एलान कर किया है।
गौरतलब है कि 14 अक्टूबर को पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी के मेरठ आगमन का विरोध कर रहे वकीलों पर जेलचुंगी पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया था। घटना के विरोध में वकीलों ने एसएसपी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था। कई दिनों से वकील हड़ताल पर थे। सोमवार को जिला जज चंद्रहास के चैम्बर में मेरठ बार एसोसिएशन के अध्यक्ष रोहिताश्व कुमार अग्रवाल और महामंत्री प्रबोध कुमार व एसएसपी मंजिल सैनी दहल के बीच वार्ता हुई। वार्ता के दौरान लाठीचार्ज में घायल होने वाले अधिवक्ता एमपी शर्मा, विनोद राणा, गगन राणा, अलका शर्मा और बार एसोसिएशन के पूर्व पदाधिकारी भी मौजूद रहे। उस दिन की घटना को कप्तान ने अपनी ड्यूटी का हिस्सा बताते हुए खेद प्रकट किया। उन्होंने साफ किया कि किसी वकील का दिल दुखाना उनका मकसद नहीं था। लेकिन हालात को काबू में करने के लिए एकाएक पुलिस ने लाठियां फटकार दीं। सौहार्दपूर्ण वातावरण में हुई बातचीत में वकीलों ने भी कप्तान से अपने रवैये के लिए खेद जताया। जिसके बाद दोनों पक्षों के बीच समझौता हो गया। महामंत्री प्रबोध कुमार शर्मा ने बताया कि 25 अक्टूबर से वकील काम पर लौट आएंगे।

203 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *