पत्नी की अश्लील फोटो अखबार में छपवाकर बंटवाई, फिर पत्रकार और पति का हुआ ये हाल…

The-publication-of-the-obscene-photo-of-the-wife-in-the-newspaper

मेरठ : अपनी पत्नी की अश्लील फोटो एक स्थानिय समाचार पत्र में छपवाकर उसे ब्लैकमेल करने का आरोप लगाते हुए शिवसेना कार्यकर्ताओं ने आरोपी पति और तथाकथित पत्रकार की एसएसपी कार्यालय पर जमकर धुनाई की। बाद में एसएसपी के आदेश पर आरोपी पति और तथाकथित पत्रकार को सिविल लाइन पुलिस के हवाले कर दिया गया।

दरअसल, साकेत क्षेत्र निवासी एक महिला का अपने पति से विवाद चल रहा है, जिसके चलते वह दो वर्षो से पति से अलग रह रही है। महिला का आरोप है कि उसका पति कमल शराबी है और उस पर अपने दोस्त मुकेश सैनी के साथ संबंध बनाने के लिए दबाव डालता था। आरोपियों ने उसकी अश्लील फोटो खींच लीं और उन्हें सोशल साइट्स पर वायरल करने की धमकी देते हुए उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया। इस मामले की शिकायत उसने एसएसपी कार्यालय में की तो खुद को एक समाचार पत्र में पत्रकार बताने वाले मुकेश सैनी ने उसकी अश्लील फोटो अखबार में छापकर उसकी पहचान उजागर करते हुए अखबार में समाचार प्रकाशित कर दिया। घटना के बाद सकते में आई महिला मंगलवार को शिवसेना के नेता धर्मेन्द्र तोमर के साथ एसएसपी कार्यालय पहुंची और अपनी शिकायत दर्ज कराते हुए दोनों आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की। जिसके बाद एसएसपी के आदेश पर शिकायत प्रकोष्ठ की इंस्पेक्टर नर्गिस खान समाचार पत्र में छपे मोबाइल नंबर पर संपर्क कर आरोपी मुकेश सैनी को एसएसपी कार्यालय बुलाया। बताया जाता है कि मुकेश और महिला का पति कमल शराब के नशे में धुत एसएसपी कार्यालय पहुंचे और उल्टा महिला का भला-बुरा कहने लगे। जिस पर गुस्साए शिवसैनिकों नेे दोनों आरोपियों की जमकर धुनाई कर डाली। हंगामे का शोर सुनकर एसएसपी ने दोनों आरोपियों को अपने कार्यालय में तलब कर लिया। आरोपी मुकेश सैनी ने बताया वह साप्ताहिक समाचार पत्र मेें कार्यरत है और उसके समाचार पत्र का यह पहला ही संस्करण प्रकाशित किया था। उसने सफाई दी कि वह नहीं जानता था कि इस प्रकार किसी महिला का फोटो प्रकाशित करना अपराध है। एसएसपी ने एसएसआई सिविल लाइन ओमवीर को मौके पर तलब करते हुए दोनों आरोपियों को पुलिस के हवाले कर दिया। वहीं इंस्पेक्टर सिविल लाइन विजयवीर ने मामले की जानकारी से ही इंकार किया है।

3447 Total Views 3 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *