दिल्ली की दरगाह से घूमने गए दो मौलवियों को पाकिस्तानी अखबार ने RAW एजेंट बताकर कराया था गिरफ्तार, सुषमा स्वराज के हस्तक्षेप से दोनों सकुशल वापस भारत लौटे, भारतीय मौलवियों के साथ बदसलूकी की कहानी, उन्हीं की जुबानी -

Two-Pakistani-clerics-who-had-gone-to-the-dargah-of-Delhi-were-arrested-by-the-Pakistani-newspaper-as-RAW-agent.

भारत से कुछ दिन पहले पाकिस्तान गए दिल्ली की प्रसिद्ध हजरत निजामुद्दीन दरगाह के दो मौलवियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। दरअसल, पाकिस्तान के एक बडे अखबार ने दोनों मौलवियों को RAW एजेंट बताकर एक गलत खबर छाप दी। जिस आधार पर दोनों की गिरफ्तारी हो गई। फ्लाइट में बैठने के बाद ही दोनों मौलवियों के मोबाइल फोन बंद कर दिए गए थे। जिसके बाद भारत में दोनों मौलवियों के लापता होने की खबर से हडकंप मच गया। आज दोनों मौलवी पाकिस्तान से लौटकर हजरत निजामुद्दीन की दरगाह पहुंचे और मीडिया से बातचीत की। उन्होंने यह सब जानकारी देते हुए बताया कि पाकिस्तान में उनके साथ बदसलूकी की गई। दोनों मौलानाओं का पता विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के हस्तक्षेप के बाद ही चल पाया। सुषमा स्वराज के कडे रूख को देखते ही पाकिस्तान अपनी औकात पर आ गया और अपनी गलती मानते हुए दोनों मौलानाओं को सकुशल छोड दिया।

1531 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *