पुरानी पेंशन व्यवस्था और चिकित्सा प्रतिपूर्ति बहाली के लिए एकजुट हुए स्वास्थ्यकर्मी, सीएमओ कार्यालय पर हंगामा

Punk-rider-on-sarees-showroom

मेरठ : पुरानी पेंशन व्यवस्था और चिकित्सा प्रतिपूर्ति बहाल किए जाने की मांग को लेकर स्वास्थ्य कर्मियों ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। इसी कड़ी में आज दर्जनों स्वास्थ्यकर्मियों ने सीएमओ कार्यालय के बाहर जमकर हंगामा किया। स्वास्थ्य कर्मियों ने सरकार के नाम सौंपे ज्ञापन में अपनी मांगे पूरी न होने पर फरवरी में प्रदेशव्यापी हड़ताल की चेतावनी दी है। मिनिस्ट्रियल एसोसिएशन के जिला मंत्री राजेश कुमार शर्मा के नेतृत्व में दर्जनों स्वास्थ्यकर्मियों ने सीएमओ कार्यालय पर प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए जमकर हंगामा किया। राजेश कुमार शर्मा ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग में तैनात हजारों कर्मचारी पुरानी पेंशन व्यवस्था बहाल किए जाने को लेकर आंदोलनरत हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि इसके बावजूद प्रदेश सरकार स्वास्थ्यकर्मियों की सुनवाई नहीं कर रही है। वहीं, सरकार ने स्वास्थ्यकर्मियों को मिलने वाली चिकित्सा प्रतिपूर्ति कैशलेस किए जाने का दावा करते हुए बीमार होने वाले स्वास्थ्य कर्मियों के इलाज के लिए मिलने वाली रकम भी देनी बंद कर दी है। उन्होंने सवाल उठाया की सरकारी अस्पतालों में सुविधाएं नहीं मिलती ऐसे में बीमारी से जूझ रहे स्वास्थ्यकर्मी बिना पैसे के निजी अस्पतालों में इलाज कैसे कराएं। उन्होंने चिकित्सा प्रतिपूर्ति बहाली की मांग उठाई। साथ ही चेतावनी दी कि यदि इन मांगों को पूरा न किया गया तो फरवरी माह में स्वास्थ्यकर्मी प्रदेश व्यापी हड़ताल से भी पीछे नहीं हटेंगे।

103 Total Views 2 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *