हंगामे की भेंट चढ़ी नगर निगम की पहली बोर्ड बैठक, वंदे मातरम पर फिर बवाल

Vande-Mataram-then-again

मेरठ : सोमवार को टाउन हाॅल में आयोजित नगर निगम की पहली बोर्ड वंदे मातरम पर हुए बवाल के बाद हंगामे की भेंट चढ़ गई। वंदे मातरम के बीच में फिल्मी गाना बजने पर शुरू हुआ भाजपाइयों का हंगामा बोर्ड बैठक के समाप्त होने तक जारी रहा। हंगामे के चलते चंद मिनटो में पार्षदों से परिचय प्राप्त करते हुए मेयर ने बैठक समाप्ति की घोषणा कर दी।
अपने निर्धारित समय से काफी देर बाद शुरू हुई बोर्ड बैठक में बसपा की मेयर सुनीता वर्मा, भाजपा सांसद राजेन्द्र अग्रवाल, दक्षिण विधानसभा विधायक डाॅ सोमेन्द्र तोमर और भाजपा, बसपा व अन्य सभी दलांें से जुड़े पार्षद मौजूद रहे। नगरायुक्त मनोज कुमार चैहान ने बैठक की शुरूआत की। बैठक की शुरूआत वंदे मातरम के गायन से हुई। मेयर सहित सभी पार्षद और जनप्रतिनिधि राष्ट्रगान के दौरान खड़े हुए। मगर राष्ट्रगान के बीच में एकाएक फिल्मी गाने बज जाने पर भाजपाइयों ने हंगामा शुरू कर दिया। जैसे-तैसे वंदेमातरम की समाप्ति के बाद राष्ट्रगान हुआ। इसके बाद बसपा महापौर और पार्षदों के बीच परिचय शुरू हुआ। लेकिन वंदे मातरम के दौरान बजे फिल्मी गीत के विरोध में भाजपाइयों का हंगामा जारी रहा। जैसे-तैसे परिचय कार्यक्रम निपटाया गया। इसी दौरान बसपा पार्षद सविता गुर्जर ने शहर के विकास से संबंधित तीन-चार प्रस्ताव पेश किये, लेकिन शोर-शराबे में प्रस्ताव दब कर रह गए। जिसके बाद नगरायुक्त और महापौर ने बैठक समाप्ति की घोषणा कर दी। बैठक समाप्ति की घोषणा के बाद भी पार्षदों का हंगामा जारी रहा और उन्होंने डायस पर बिछी चादर खींचते हुए माइक नीचे गिरा दिए। काफी देर चले हंगामे के बाद पुलिस ने पार्षदों को समझाते हुए टाउन हाॅल से बाहर किया।

113 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *