होटल के कमरे में किशारी से दुष्कर्म का आरोपी दरोगा गया जेल

Was-accused-of-rape-by-prison-inspector-Kishari

मेरठ : टीपीनगर की किशोरी दुराचार के मामले में एक करीब एक महीने से फरार चल रहे ब्रहमपुरी थाने के दारोगा संजीव डोगरा ने आज कोर्ट में सरेंडर कर दिया। जिसके बाद उसे कड़ी सुरक्षा में जेल भेज दिया गया। गौरतलब है कि चर्चित मामले में पुलिस दारोगा को काफी समय से तलाश कर रही थी।

बताते चलें कि 25 जनवरी को टीपीनगर के मलियाना की रहने वाली किशोरी से लिसाड़ीगेट के रईस ने दुष्कर्म और ताहिर और शहजाद ने छेड़छाड़ की, जो जेल में है। रईस ने किशोरी के साथ दुष्कर्म करने के बाद उसे ब्रहमपुरी थाने में दारोगा संजीव डोंगरा को सौंपा दिया। आरोप है कि दारोगा ने भी युवती को उसके परिजनों के सुपुर्द न करके रातभर होटल में रखकर उसके साथ दुष्कर्म किया। परिजनों के हंगामे के बाद किशोरी को कोर्ट में पेश किया गया तो उसने अपने 164 के बयान में दरोगा की काली करतूत का खुलासा किया। वहीं इस पूरे मामले के बाद रविवार को किशोरी दोबारा से अगवा हो गई लेकिन दस दिन बाद तमाम दबाव के चलते पुलिस ने किशोरी को संभल से बरामद कर लिया था। इस बार किशोरी ने अपने रिश्ते के मामा और ममेरे भाई पर खुद का अपहरण और दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है। इस मामले में परिजनों और भाजपाइयों द्वारा आरोपी दरोगा की गिरफ्तारी को लेकर किए जा रहे हंगामे के चलते पुलिस दबाव में थी। काफी समय से दरोगा को बचाने का प्रयास कर रहे अधिकारी बैकफुट पर आ गए। दबाव के चलते आरोपी दरोगा संजीव डोगरा बुधवार को चेहरे पर कपड़ा ढककर एकाएक सीजीएम कोर्ट में पेश हो गया। हालांकि अधिकारियों द्वारा यह दावा किया जाता रहा कि दरोगा की तलाश में कचहरी में भी पुलिस तैनात की गई है। कोर्ट में दरोगा के पेश होने के बाद पुलिस ने कड़ी सुरक्षा में उसे जेल भेज दिया।

595 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *