पुलिस की घेराबंदी तोड़ वकीलों ने बेगमपुल पर किया चक्का जाम, हंगामे और धक्कामुक्की के बाद कई वकील गिरफ्तार

chakka-jam

मेरठ : वकीलों द्वारा शनिवार को सुभारती में होने वाले भाजपा के प्रदेश स्तरीय कार्यक्रम का विरोध पुलिस पर भारी पड़ा। पुलिस की लाख कोशिशों के बावजूद घेराबंदी तोड़कर बेगमपुल चैराहे पहुंचे सैकड़ो वकीलों ने सड़क पर चक्का जाम कर दिया। इस दौरान एसपी सिटी से लेकर तमाम फोर्स के पसीने छूटे रहे। वकीलों ने चेतावनी दी कि या तो उन्हें सुभारती जाने दिया जाए या उनकी गिरफ्तारी की जाए। जिसके बाद पुलिस ने वकीलों को हिरासत में लेते हुए पुलिस लाइन भेजा।
बताते चलें कि हाईकोर्ट बेंच की मांग बुलंद करने के लिए पश्चिम यूपी के 22 जिलों के वकीलांे ने आज सुभारती में होने वाले भाजपा के कार्यक्रम के विरोध और सीएम सहित भाजपा नेताओं के घेराव का एलान किया था। वकीलों के एलान के चलते पुलिस-प्रशासन ने देर रात से ही कचहरी के आसपास के इलाके की घेराबंदी करते हुए छावनी में तब्दील कर दिया। इसके बावजूद सुबह को सैकड़ो वकील पुलिस की घेराबंदी तोड़कर हंगामा करते कमिश्नरी होते हुए बेगमपुल जा पहुंचे। वकीलों ने बेगमपुल पर चक्का जाम करते हुए पुलिस-प्रशासन के खिलाफ हंगामा कर दिया। एसपी सिटी रणविजय सिंह, सीओ सिविल लाइन रामअर्ज सहित कई थानों की फोर्स ने बेगमपुल पर मोर्चा संभालते हुए वकीलों को रोकने का प्रयास किया। इस दौरान पुलिस और वकीलों के बीच जमकर नोंकझोंक और खींचतान हुई। वकीलों ने हंगामा करते हुए एलान कर दिया कि वह किसी भी सूरत में अपने कदम पीछे नहीं हटाएंगे। उन्होंने कहा कि यदि पुलिस उन्हें सुभारती जाने से रोकना चाहती है तो उन्हें गिरफ्तार कर सकती है। घंटो हंगामे के बाद अधिकारियों ने बसें बुलाते हुए कई वरिष्ठ अधिवक्ताओं सहित दर्जनों वकीलांे को हिरासत में लेते हुए पुलिस लाइन भेज दिया।

107 Total Views 1 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *