सामूहिक आत्मदाह के लिए कमिश्नरी पहुंची महिलाएं, पुलिस के फूले हाथ पांव, जमकर हंगामा

Women-reaching-commission-for-mass-self-sacrifice

मेरठ : विभिन्न सरकारी योजनाओं में दुर्बल आय वर्ग के मकान खरीदने वाले उपभोक्ताओं में विभागों द्वारा भेजे जा रहे नोटिसों को लेकर आक्रोश है। इसी के चलते मंगलवार को कई आवंटियो ने कमिश्नरी पर सामूहिक आत्मदाह का प्रयास किया। सामूहिक आत्मदाह की पूर्व सूचना के चलते कमिश्नरी पर पहले से ही फोर्स तैनात थी। महिलाओं को आत्मदाह का प्रयास करते देख पुलिस के हाथ पांव फूल गए। सीओ सिविल लाइन रामअरज ने महिला पुलिस कर्मियों की मदद से किसी प्रकार आत्मदाह करने आई महिलाओं को रोका। इसके बाद महिलाओं को डीएम से मिलने के लिए भेजा गया।
दरअसल, मेरठ विकास प्राधिकरण सहित अन्य सरकारी विभागों द्वारा दुर्बल आय वर्ग के लोगों को विभिन्न योजनाओं में मकान आवंटित किए गए थे। आवंटियो का आरोप है की मकानों की पूरी कीमत चुकाए जाने के बावजूद विभागों द्वारा उन पर बकाया रकम बता कर 5 से 7 लाख तक बकाया रकम बताई जा रही है। सरकारी विभागों पर गरीब आवंटियो के उत्पीड़न का आरोप लगा आज पीड़ितों ने कमिश्नरी में सामूहिक आत्मदाह की चेतावनी दी थी। जिसके चलते मंगलवार की सुबह से ही महिला पुलिस और कई थानों की फोर्स के साथ सीओ सिविल लाइन रामअरज कमिश्नरी पार्क पर डट गए। सुबह को कमिश्नरी पार्क पहुंची पीड़ित महिलाओं ने जैसे ही केरोसिन की बोतल निकाल कर आत्मदाह का प्रयास किया तो पुलिस ने उनके हाथ से माचिस और केरोसिन की बोतल छीन ली। पुलिस ने सभी महिलाओं को समझाते हुए डीएम के सामने अपनी समस्या रखने की बात कही। जिसके बाद महिलाओं को डीएम से मिलने के लिए भेज दिया गया।

79 Total Views 2 Views Today
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *