‘पापा! ‘आप परेशान न होना हम दुनिया से जा रहे हैं’

world

मेरठ : अत्यंत दुखदः मगर होनी को शायद यही मंजूर था। ब्रहस्पतिवार की सुबह परिक्षितगढ़ में एक महिला द्वारा पांच बेटियों को जन्म देने के बाद जब पूरा परिवार उनकी परवरिश को लेकर चिंताग्रस्त था। उसके चंद घंटो बाद पांचो बेटियों ने एक के बाद एक अस्पताल में दम तोड़ दिया। मासूमों की मौत के बाद उनके परिवार में कोहराम मच गया।
बताते चलें कि खादर के बागवाला गांव निवासी देवीराम की पत्नी पिंकी ने सुबह को एक साथ पांच बच्चियों को जन्म दिया था। बच्चियों का वजन कम होने के कारण जच्चा और सभी बच्चियों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उधर, पहले से दो बच्चियों का पिता होने के कारण देवीराम का पूरा परिवार बच्चियों की परवरिश को लेकर चिंता में था। लेकिन अस्पताल में भर्ती पांच बच्चियों ने एक के बाद एक करके दम तोड़ दिया। जिसके बाद उनके परिवार में कोहराम मच गया। परिवार के लोगों ने भारी मन से शाम को सभी बच्चियों के शवों को दफना दिया। घटना के बाद गांव में मातम पसरा है। हर कोई होनी को कोस रहा है। इसे विडंबना ही कहा जाएगा कि जिन बच्चियों के जन्म के बाद परिवार के लोग असमंजस की स्थिति में थे। उनकी मौत के बाद उनके आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे थे।

1037 Total Views 2 Views Today
Tags:
  • Add a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *